breaking news

घर में रखे ये एक चीज तो लक्ष्मी करेगी निवास

भगवान विष्णु को शालीग्राम के रूप में पूजा जाता है। विशेष रूप से यह काले रंग का चिकना पत्थर होता है जिसे भगवान विष्णु का स्वरूप माना जाता है। शालीग्राम के पत्थर नेपाल में बहने वाली गंडकी नदी में पाए जाते हैं। इस नदी को तुलसी का रूप भी माना जाता है। पूजा करते समय यदि आप शालीग्राम के ऊपर तुलसी के पत्ते अर्पित करते हैं, तो भगवान विष्णु जल्द प्रसन्न होते हैं।

घर में रखे ये एक चीज तो लक्ष्मी करेगी निवास
ANIL ARORAANIL ARORA | Updated: Friday, August 11, 2017, 23:40

कहा जाता है कि घर में सिर्फ़ एक ही शालीग्राम होना चाहिए। वहीं इसे बिना नहाए कभी भी छूना नहीं चाहिए। इसके पूजन के समय आपका मन साफ होना चाहिए। शालीग्राम पूजा में तुलसी का पत्ता भगवान शालीग्राम के ऊपर चढ़ाने से धन, वैभव मिलता है।

इसकी पूजा के लिए हमेशा आपको घर साफ़ रखना चाहिए, साथ ही इसे विष्णु की प्रतिमा के पास रखना ज़्यादा फलदायी माना जाता है। जिस घर में शालीग्राम की रोज पूजा होती है, वहां लक्ष्मी का वास होता है। शालीग्राम की पूजा करने से आपके सारे पाप धुल जाते हैं।

कहा जाता है कि शालीग्राम के प्रकार अलग-अलग फल देने वाले होते है। छत्राकर शालीग्राम नौकरी में अच्छा पद दिलाता है। वहीं वर्तुलाकार शालीग्राम धन संपत्ति दिलाता है।

वैसे ही फटा, शूल की नोक जैसा शालिग्राम दुख का कारण बनता है। इससे घर में दरिद्रता आती है।

शनिदेव होंगे प्रसन्न,आज सूर्यास्त के समय करें ये तीन उपाय

शनिदेव होंगे प्रसन्न,आज सूर्यास्त के समय करें ये तीन उपाय

सिक्कों का जेब से गिरना होता है शुभ, मिलता है ये लाभ

सिक्कों का जेब से गिरना होता है शुभ, मिलता है ये लाभ

गुरुवार को जरूर करे, केले के पेड़ की पूजा

गुरुवार को जरूर करे, केले के पेड़ की पूजा

ये चार राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली

ये चार राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली

ये उपाय करने से नहीं होगा घर में क्‍लेश

ये उपाय करने से नहीं होगा घर में क्‍लेश

गुरु नानक जयंती आज, इस वजह से मनाया जाता है पर्व

गुरु नानक जयंती आज, इस वजह से मनाया जाता है पर्व

भगवान शिव ने शुरू की थी खिचड़ी बनाने की परंपरा

भगवान शिव ने शुरू की थी खिचड़ी बनाने की परंपरा

4 नवंबर को है कार्तिक पूर्णिमा, इस दिन है स्नान और दान का महत्व

4 नवंबर को है कार्तिक पूर्णिमा, इस दिन है स्नान और दान का महत्व