breaking news

सर्जिकल स्‍ट्राइक के हीरो की अंतिम विदाई, घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल

सर्जिकल स्‍ट्राइक से भारत का स्‍वाभ‍िमान बढ़ाने वाले हीरो रहे संदीप सिंह तंगधार में घुसपैठियों से लोहा लेते हुए शहीद.....

सर्जिकल स्‍ट्राइक के हीरो की अंतिम विदाई, घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल
ANIL ARORAANIL ARORA | Updated: Tuesday, September 25, 2018, 01:35

सर्जिकल स्‍ट्राइक से भारत का स्‍वाभ‍िमान बढ़ाने वाले हीरो रहे संदीप सिंह तंगधार में घुसपैठियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए हैं। तंगधार में आर्मी के जवान घुसपैठियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे थे। उसी वक्‍त दुश्मन की गोली उनको लग गई। दुश्‍मन से लोहा लेते वक्‍त उन्‍होंने तीन आतंकवादियों को मार गिराया था।

सर्जिकल स्‍ट्राइक के हीरो की अंतिम विदाई, घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल


संदीप सिंह सेना के स्‍पेशल कमांडो बन कर सर्जिकल स्‍ट्राइक का अहम हिस्‍सा रहे थे। बता दें कि सितंबर 2016 में भारत ने पाकिस्‍तान के खिलाफ सर्जिकल स्‍ट्राइक कर दुश्‍मनों के लांच पैड का तबाह कर कई आंत‍की शिविरों को नष्‍ट कर दिया था। इस कार्रवाई में कई आंत‍की जो सीमा पार करने की फिराक में थे वह भी मारे गए थे।

भारतीय सेना की इस कार्रवाई से पूरा देश खुश था, वहीं दुश्‍मन हैरान था। संदीप अपनी पीछे एक हंसता-खेलता परिवार छोड़ गए हैं। संदीप को एक पांच साल का बेटा भी है। उनकी पत्‍नी और परिवारजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।
2007 में संदीप सेना में भर्ती हुए थे। उनकी ड्यूटी 4 पैरा उधमपुर में थी। घुसपैठ की सूचना पर उन्हें तंगधार भेजा गया था। बता दें कि रविवार को एलओसी पर आतंकियों ने घुसपैठ की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। इसी मुठभेड़ में संदीप सिंह घायल हो गए और श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया।

सुप्रीम कोर्ट का आधार पर अहम फैसला जानिए क्या है

सुप्रीम कोर्ट का आधार पर अहम फैसला जानिए क्या है

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला SC/ST Act में प्रमोशन में आरक्षण राज्य सरकारों पर छोड़ा

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला SC/ST Act में प्रमोशन में आरक्षण राज्य सरकारों पर छोड़ा

सासंदों और विधायकों को बतौर वकील वकालत करने पर सुप्रीम कोर्ट से ग्रीन सिग्नल

सासंदों और विधायकों को बतौर वकील वकालत करने पर सुप्रीम कोर्ट से ग्रीन सिग्नल

1 लाख लोगों को जन आरोग्य योजना का फायदा, जानिए क्या है ये योजना

1 लाख लोगों को जन आरोग्य योजना का फायदा, जानिए क्या है ये योजना

जानिए आतंक प्रभावित देशों में भारत कितने नंबर पर है

जानिए आतंक प्रभावित देशों में भारत कितने नंबर पर है

मोदी की तरफ से 557 करोड़ का तोहफा वाराणसी को

मोदी की तरफ से 557 करोड़ का तोहफा वाराणसी को

अरुण जेटली ने कहा और देशों के मुकाबले भारत में कम महंगाई

अरुण जेटली ने कहा और देशों के मुकाबले भारत में कम महंगाई

SC/ST Act: छावनी में बदले कुछ राज्य और किया भारत बंद

SC/ST Act: छावनी में बदले कुछ राज्य और किया भारत बंद